प्रतिकूल परिवर्तन, संघवाद का संकट

सांस्कृतिक और राजनीतिक दृष्टिकोण से बहुलतावादी भारत के विचार को संरक्षित करने के लिए एक संघीय गठबंधन की आवश्यकता है. जब नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ विनोद के पॉल …

Read More

अफगानिस्तान से अमेरिका की वापसी के बीच बातचीत करेंगे चीन, पाकिस्तान एवं अफगानिस्तान

 त्रिपक्षीय वार्ता अफगानिस्तान में ‘नई अनिश्चितताओं’ को संबोधित करेगी   चीन गुरुवार को अफगानिस्तान और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों के साथ एक बैठक की अध्यक्षता करेगा, क्योंकि बीजिंग अमेरिकी बलों की …

Read More

मॉडल टेनेंसी एक्ट को कैबिनेट की मंजूरी

विशेष संवाददाता नई दिल्ली केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को किराये की संपत्तियों पर कानून बनाने या कानूनों में संशोधन करने के लिए भेजे जाने …

Read More

नवीन पंचायती राज प्रणाली की समीक्षा

नवीन पंचायती राज प्रणाली के माध्यम से पंचायतों को अधिकार देकर उसे स्वायत निकायों के रूप में विकसित करने का प्रयास किया गया ताकि प्रजातांत्रिक विकेंद्रीकरण के लक्ष्य को प्राप्त …

Read More

67th BPSC : एक परिचर्चा

67वीं BPSC नोटिफिकेशन, सिलेबस और संभावित परीक्षा की तिथि जैसा कि पहले ब्लाग में मैने चर्चा की थी कि BPSC की तैयारी कैसे करें| उसी संदर्भ को आज आगे बढ़ाते …

Read More

पाल युग की कलाएं:

पाल युग में पत्थर और कांसे की मूर्तियों के निर्माण की एक उन्नत शैली का विकास बिहार में हुआ था, जिसका प्रसार बंगाल में भी देखा जा सकता है। काँस्य-प्रतिमाओं …

Read More

झारखंड के स्वतंत्रता सेनानी

झारखंड के जिन वीर सपूतों ने अंग्रेजों के विरुद्ध अंतिम साँस तक विद्रोह की ज्वाला सुलगाए रखी, उनकी संख्या बहुत है। अपने प्राण देकर रक्त से क्रांति की मशाल सुलगानेवाले …

Read More

UPPSC परीक्षा के दौरान तनाव से बचने का व्यावहारिक कदम

Uppsc परीक्षा के दौरान अक्सर यह देखा जाता है की इस कठिन परीक्षा के समय अभ्यर्थी मानसिक अवसाद,तनाव या बोझिलता के शिकार हो जाते हैं.वे नीरसता, निराशा व भय के …

Read More

संविधान का मूल ढांचा

क्या यह संविधान में वर्णित है? नहीं, संविधान में मूल ढांचा के रूप् में किया भाग वर्णन नहीं किया गया है। यह भारतीय संविधान का अभिन्न भाग कब और कैसे …

Read More

Weekly Post : लक्ष्य BPSC -1

                        एक साप्ताहिक श्रृंखला – (Part-I) ”युद्ध, युद्ध के मैदानों में नहीं जनरल के टेंट और युद्धरत सैनिकों के मस्तिष्क में लड़ी और जीती जाती है।” उपर्युक्त कथन में अपने …

Read More